जाने कि What Is The Internet in Hindi | Internet का इतिहास इसके कार्य और उपयोगिता

What Is The Internet in Hindi

नमस्कार दोस्तों आज कहीं आप पोस्ट आप पढ़ने वाले हैं। What Is The Internet in Hindi जी हां दोस्तों इस पूरे पोस्ट में आप यह जानेंगे। कि आखिर यह इंटरनेट होता क्या है? इंटरनेट कब शूरू हुुआ? इंटरनेट कैसे संचालित होता है? तथा इंटरनेट के मालिक या उसे कंट्रोल कौन करता है? दोस्तों आज के समय में लगभग हर व्यक्ति इंटरनेट के बारे में जरूर जानता होगा। और लगभग हर इंसान इंटरनेट का किसी ना किसी रूप में उपयोग जरूर करता होगा। परंतु दोस्तों क्या आप इंटरनेट के बारे में जानते हैं। कि यह आखिर होता क्या है? इसका इतिहास क्या है? दुनिया में सबसे पहली कहां पर इंटरनेट शुरू हुआ? इसका निर्माण क्यों हुआट तो दोस्तों इस पूरे पोस्ट को पढ़कर आप इन सभी सवालों के जवाब बहुत ही आसानी से समझ जाएंगे। दोस्तों इस पूरे पोस्ट में मैं आपको सबसे आसान भाषा में इन सभी सवालों के जवाब देने का पूरा प्रयास करूंगा। तो चलिए दोस्तों शुरू करते हैं अपना पोस्ट कि आखिर इंटरनेट क्या है-

दोस्तों सरल भाषा में Internet परिभाषित करने को कहा जाए। तो हम यह कह सकते हैं। कि इंटरनेट एक प्रकार का नेटवर्क है। जोकि पूरे विश्व में कनेक्टेड है। अर्थात इंटरनेट एक इंटरनेशनल नेटवर्क है। जिसके द्वारा दुनिया की बहुत सारे कंप्यूटर तथा डिजिटल डिवाइस आपस में कनेक्ट हो सकते है। तथा इंटरनेट के माध्यम से आपस में इंफॉर्मेशन अर्थात डाटा शेयर तथा रिसीव करते हैं। दोस्तों इंटरनेट एक ऐसा नेटवर्क है। जिसके द्वारा हम किसी भी तरह की इंफॉर्मेशन को एक स्थान से दूसरे स्थान तक बहुत ही आसानी से तथा बहुत ही कम समय में पहुंचा सकते हैं। दोस्तों आज के समय में इंटरनेट एक ऐसा माध्यम बन चुका है। जिसके द्वारा हम न र्सिफ इंफॉर्मेशन परंतु पैसे को भी एक स्थान से दूसरे स्थान तक कुछ सेकंडो में पहुंचा सकते हैं।

इंटरनेट का इतिहास ( History of The Internet in Hindi )

दोस्तों आज के समय में इंटरनेट इतनी अधिक व्यापक स्वरूप में प्रयोग किया जा रहा है। कि आप इसके माध्यम से कुछ सेकंड में ऐसे ऐसे कार्यों को पूरा कर सकते हैं। जिन्हें करने के लिए हमें बिना इंटरनेट के बहुत अधिक समय तथा मेहनत करनी की जरूरत हो सकती है। परंतु दोस्तों इंटरनेट की शुरुआत के समय में किसी व्यक्ति ने यह सोचा नहीं होगा। कि यह है यह नेटवर्क इतना अधिक व्यापक स्तर पर पहुंच जाएगा। वेसै दोस्तों इंटरनेट की शुरुआत मानी जाती है। 1969 में जब अमेरिका के द्वारा चांद पर पहली बार कदम रखा गया। उस वक्त अमेरिका ने अपनी एक एजेंसी जिसका नाम  “नेशनल सांइस फांउडेशन´´ था। उसे यह कार्य दिया की उनके चार कंप्यूटर को एक साथ जोड़ा जाए। और उनमें डाटा इंफॉर्मेशन का आदान प्रदान किया जाये एक ऐसे नेटवर्क का निर्माण करना हैं। दोस्तों यह इंफॉर्मेशन का एक्सचेंज ही इंटरनेट की शुरुआत मानी जाती है। दोस्तों इस पूरे कार्य के बाद धीरे-धीरे इस सिस्टम के नेटवर्क को अमेरिका ने अपने आसपास के अलग-अलग एजेंसीज के साथ कनेक्ट करके थोड़ा बड़ा किया। और धीरे-धीरे कई सारे एजेंसी, प्राइवेट सेक्टर, कार्यालय इस नेटवर्क के साथ जुड़ते गए। और यह नेटवर्क एक एक देश से होते हुए आज के समय में पूरे विश्व में फैल चुका है। दोस्तों इंटरनेट की शुरुआत को यदि हम समझे तो इंटरनेट शुरुआत के समय में यह केवल सरकारी कार्यों के लिए ही प्रयोग में किया जाता था। परंतु धीरे-धीरे उसको आम नागरिकों के प्रयोग के लिए भी उपलब्ध करा दिया गया।

भारत में इंटरनेट की शुरुआत

दोस्तों विदेशों में तो इंटरनेट की शुरुआत 1969 में ही हो चुकी थी। परंतु दोस्तों भारत में इंटरनेट को आने में 27 साल लग गए। जी हां दोस्तों भारत में सबसे पहले इंटरनेट 15 अगस्त 1996 मैं बीएसएनएल के द्वारा भारत में लॉन्च किया गया था। 1996 के बाद धीरे-धीरे बहुत सी प्राइवेट कंपनियां जैसे कि टाटा, रिलायंस, एयरटेल के द्वारा आज के दौर में इंटरनेट को पूरे भारत में एक व्यापक स्तर में चलाया जा रहा है। दोस्तों शुरुआत में इंटरनेट सिर्फ और सिर्फ सरकारी कार्यों के लिए ही उपलब्ध था। तथा सिर्फ सरकारी एजेंसी और सुरक्षा एजेंसी ही बस इंटरनेट का उपयोग करती थी। परंतु आज के समय में इंटरनेट हर एक व्यक्ति के जीवन का एक महत्वपूर्ण हिस्सा बन चुका है। दोस्तों आज आप इस पोस्ट को पढ़ भी पा रहे हैं। इसका कारण सिर्फ एक ही है इंटरनेट का इस स्तर पर उपयोग। दोस्तों इंटरनेट आज के समय में जीवन का एक महत्वपूर्ण हिस्सा बन। चुका है

इंटरनेट का मालिक कौन है ( Who Is The Owner of Internet in Hindi )

जैसा कि दोस्तों आपने शुरू में जाना कि इंटरनेट की शुरुआत के समय में सिर्फ कुछ कंप्यूटर को जोड़ने के लिए बनाया गया। बाद मे धीरे-धीरे इसे कई सारे एजेंसीज कई सारे कार्यालय ऑफिस आपस में इंफॉर्मेशन शेयर करने के लिए प्रयोग करने लगे। और आज के दौर में पूरे विश्व में इंटरनेट का नेटवर्क फैल चुका है दोस्तों इंटरनेट के मालिक की बात की जाए तो इंटरनेट ऐसा नेटवर्क है। जिस पर किसी भी एक व्यक्ति एजेंसी अथवा किसी एक देश का कंट्रोल नहीं है। जी हां दोस्तों इंटरनेट जैसे नेटवर्क को कोई भी कंट्रोल नहीं करता इंटरनेट का मालिक कोई नहीं है। इंटरनेट अपने आप में एक ऐसा नेटवर्क है। जो कि इंटरनेशनल लेवल पर हर एक देश में जुड़ा हुआ है। परंतु दोस्तो लगभग हर देश में इंटरनेट की सर्वर जरूर मौजूद हैं। जिन पर जानकारियां डाटा के रूप में से सेव होती हैं। तथा इन्हें एक जगह से दूसरी जगह आसानी से भेजा या रिसीव किया जा सकता है।

इंटरनेट कार्य कैसे करता है

दोस्तों इंटरनेट की कार्य को समझने के लिए। हमें इंटरनेट के कुछ महत्वपूर्ण हिस्सों को जानना होगा। दोस्तों जैसा कि हम सब जानते हैं। इंटरनेट एक प्रकार का नेटवर्क है। जोकि कुछ मुख्य भागों में बटा होता है। सर्वप्रथम इंटरनेट को हम या कोई भी व्यक्ति कंप्यूटर या कोई भी डिजिटल डिवाइस पर उपयोग करता है। तो वह डिवाइस सबसे पहले किसी भी प्रकार के मॉडेम से कनेक्ट होता है। जोकि कंप्यूटर के डाटा को सिग्नल के रूप में परिवर्तित कर देता है। उसके बाद वह मॉडेम इंटरनेट प्रोवाइड कराने वाली कंपनी के नेटवर्क से जुड़ जाता है। फिर वह सिग्नल कंपनी के नेटवर्क से जुड़ कर। विश्व के इंटरनेट के सर्वर के पास उस सिग्नल को भेजकर उससे प्राप्त जानकारी को उस यूजर तक पहुंचा देता है। जिसने वह सिग्नल भेजा है। इस तरह से दोस्तों हम समझ सकते हैं। कि इंटरनेट का उपयोग किस प्रकार से अर्थात कार्य किस प्रकार से पूरा होता है। दोस्तों यह सभी सर्वर एक दूसरे से आज के समय में ऑप्टिकल फाइबर केबल के द्वारा जुड़े हुए होते हैं। जिसके कारण बहुत ही अधिक स्पीड से इंफॉर्मेशन को एक स्थान से दूसरे स्थान तक पहुंचाया जाता है।

क्या मोबाइल के इंटरनेट भी केबल के द्वारा ही संचालित होता है

जैसा कि दोस्तों आज के समय में इतना फास्ट इंटरनेट सिर्फ और सिर्फ ऑप्टिकल फाइबर केबल के चलन के कारण ही संभव हो पा रहा है। तो हम सभी के मन में यह सवाल आता होगा कि क्या मोबाइल जिस पर किसी भी प्रकार का कोई केबल हमें कनेक्ट नहीं करना होता। इंटरनेट का उपयोग करने के लिए। तो क्या यह भी केबल के कारण ही संभव है। तो दोस्तों इसका जवाब बहुत ही आसान है। दोस्तों जैसा कि हम जानते हैं मोबाइल को किसी भी प्रकार से ही केबल से हम नहीं कनेक्ट करते हैं। परंतु दोस्तों जो भी टावर से सिग्नल हम प्राप्त अथवा सेंड करते हैं। वह टावर मुख्य रूप से ऑप्टिकल फाइबर केबल के द्वारा ही उस नेटवर्क प्रोवाइडर की मदद से ही सर्वर के साथ कनेक्ट होता है। अर्थात दोस्तों की हमे उस नेटवर्क के साथ ही उस टावर के साथ ही बिना किसी केवल के ट्रांसमिशन की आवश्यकता होती है। उसके बाद यह पूरा नेटवर्क पूरी तरह से केबल के द्वारा ही संभव होता है। दोस्तों इस सवाल का जवाब यही है मोबाइल का कम्युनिकेशन भी ऑप्टिकल फाइबर केबल की मदद से ही होता है। और दोस्तों ऑप्टिकल फाइबर केबल के मदद के द्वारा ही आज के समय में हम इतना फास्ट इंटरनेट अपने मोबाइल पर प्रयोग कर पा रहे हैं।

ऑप्टिकल फाइबर केबल क्या है

दोस्तों जैसा कि आपने सुना है। कि इनकी केबल की मदद से ही आज के समय में इंटरनेट बहुत अधिक तेजी से चलता है। अर्थात हमें इंटरनेट की बहुत अधिक स्पीड अपने डिवाइस पर प्राप्त होती है। तो दोस्तों आखिर ऑप्टिकल फाइबर होता क्या है। इसका जवाब है 200 ऑप्टिकल फाइबर एक प्रकार की केबल होती है। जिसके अद्ंर फाइबर केबल मैजूद होते है। तथा जिसके अंदर हम प्रकाश के रूप में डाटा को एक स्थान से दूसरे स्थान पर भेजते हैं। दोस्तों जैसा कि हम सभी जानते हैं। इस पूरी दुनिया में लाइट अर्थात प्रकाश की एक ऐसी युक्‍ति है। जिसकी स्पीड दुनिया में सबसे अधिक है। दोस्तों ऑप्टिकल फाइबर केबल में प्रकाश के रूप में सिग्नल एक स्थान से दूसरे स्थान पर जाता है। इसकी स्पीड 300000 किलोमीटर प्रति सेकंड से भी अधिक मानी जाती है। दोस्तों यही कारण है। कि आज के समय में हम इंटरनेट का प्रयोग करते हैं। तो इतनी स्पीड से हमारा डाटा एक स्थान से दूसरे स्थान तक पहुंच जाता है। दोस्त एक ऑप्टिकल फाइबर केबल बहुत ही पतली होती है। यह हमारे एक बाल के बराबर मोटाई की होती है। जिसके कारण यह कम जगह घेरती है। और दोस्तों यही कारण है कि आज के समय में ऑप्टिकल फाइबर केबल इतनी व्यापक स्तर पर प्रयोग की जा रही है।

इंटरनेट के द्वारा क्या-क्या कार्य किए जाते हैं

दोस्तों वैसे तो आज के समय में इंटरनेट के बारे में हर एक व्यक्ति ही बहुत अधिक जानता है। परंतु दोस्त मैं यहां पर कुछ विशेष कार्य में इंटरनेट के माध्यम से आज के समय में बहुत ही अधिक आसान हो गए हैं। उनके बारे में बताना चाहता हूं। चलिए दोस्तों एक एक करके उन सारे कार्यों को जानते हैं-

बैंकिंग सर्विस

दोस्तों इंटरनेट आज के समय में बैंकिंग सर्विस को बहुत ही अधिक एडवांस तथा बहुत ही आसान बना दिया है। क्योंकि दोस्तों आज के समय में हम इंटरनेट के माध्यम से कुछ सेकंडो में ही अपने पैसों को एक देश से दूसरे देश तक भेज सकते हैं। तथा दोस्तों हम इंटरनेट के द्वारा ही बैंकिंग की बहुत सारी ऐसी सुविधाएं हैं। जिनका प्रयोग आसानी से ही करते हैं। और यह सब कुछ संभव हो पाया है। सिर्फ इंटरनेट के माध्यम से दोस्तों बैंकिंग सर्विस का प्रयोग जो कि आज के समय में इंटरनेट के माध्यम से आसान हुई हैं। वे हैं इंटरनेट बैंकिंग, फोन बैंकिंग, मनी ट्रांसफर, बैंक स्टेटमेंट, आदि दोस्तों यह सारे काम तथा और भी अधिक काम इंटरनेट के माध्यम से आज के समय में बहुत ही अधिक आसान हो चुके हैं।

ईमेल सर्विस

दोस्तों ईमेल अर्थात इंटरनेट मेल जिसके द्वारा हम बहुत ही कम समय में लगभग कुछ सेकंड में अपना संदेश एक जगह से दूसरी जगह बहुत ही आसानी से पहुंचा सकते हैं। यह सब कुछ संभव हो पाया है। मात्र इंटरनेट के कारण जी हां दोस्तों आज के समय में इंटरनेट में हम ईमेल के माध्यम से बहुत कम समय में अपने संदेश को भेज सकते हैं। इन संदेशों में हम ना सिर्फ अपने संदेश को लिखित रूप से भेज सकते हैं। परंतु तथा अपने संदेश को पिक्चर वीडियो के स्वरूप में भी भेज सकते हैं।

सोशल नेटवर्किंग सर्विस

दोस्तों आज के समय में एक व्यक्ति बहुत ही आसानी से अपने ऐसे दोस्त जो कि उससे कई हजारों किलोमीटर दूर है। उसके साथ सदैव जुड़ा रह सकता है जिसका कारण सिर्फ और सिर्फ सोशल नेटवर्किंग सर्विस है। सोशल नेटवर्किंग सर्विस आज के समय में मौजूद है जिसका कारण सिर्फ इंटरनेट  है। दोस्तों आज के समय में बहुत सारी सोशल नेटवर्किंग वेबसाइट है। जैसे कि फेसबुक टि्वटर इंस्टाग्राम जिनकी मदद से बहुत सारे लोग अपने दोस्तों के साथ सदैव ही जुड़े रहते हैं। अपने जीवन से जुड़े हुए पहलुओं को बहुत ही आसानी से एक दूसरे के साथ शेयर करते हैं। तथा यह सब कुछ संभव हो पाया है। सिर्फ के इंटरनेट कारण ही।

वीडियो देखकर देखना

दोस्तों इंटरनेट ने किसी भी नई चीज किसी भी नई तरह की तकनीक को सीखना। आज के समय में इतना आसान कर दिया है की बहुत सारे लोग आज के समय में मात्र इंटरनेट पर वीडियो देख कर ही बहुत सारी चीज आसानी से घर बैठे ही सीख लेते हैं। जिसका एकमात्र कारण है। यूट्यूब जैसे प्लेटफार्म जोकि संभव हो सके हैं। सिर्फ और सिर्फ इंटरनेट के कारण ही दोस्तों यूट्यूब जैसे वीडियो प्‍लेटफॉर्म के द्वारा लोग आपस में आसानी से इंफॉर्मेशन वीडियो के रूप में शेयर करते हैं। और इसको एक से दूसरे व्यक्ति तक पहुंचाते हैं। जिसका फायदा हर एक व्यक्ति आज के समय में उठा रहा है। यह सब कुछ संभव हो पाया है सिर्फ और सिर्फ इंटरनेट के कारण ही।

ई-कॉमर्स के रूप में

दोस्तों इंटरनेट एक कारण आज व्यापार का बहुत ही अधिक आसान हो गया है। दोस्तों ई-कॉमर्स अर्थात इंटरनेट के माध्यम से वस्तुओं का विक्रय कहलाता है। दोस्तों ई-कॉमर्स एक प्रकार की वेबसाइट कहलाती हैं। जिनके माध्यम से वस्तुएं ऑनलाइन बेची जाती हैं। आज के इस ऑनलाइन के दौर में यह तरीका सबसेे लोकप्रिय बन चुका है।  

निष्कर्ष

तो दोस्तों यह तो था। मेरा पूरा पोस्ट What Is The Internet in Hindi दोस्तों इस पूरे पोस्ट में मैंने इंटरनेट के बारे में बहुत ही आसान भाषा में समझाने की पूरी कोशिश की है। दोस्तों वैसे तो आज के समय में इंटरनेट इतने बड़े रूप में हो चुका है। कि जिसे हम मात्र एक पोस्ट की मदद से पूरा नहीं समझ सकते। परंतु दोस्तों ऐसे पोस्ट की मदद से मैंने आपको लगभग हर एक महत्वपूर्ण जानकारी प्रदान करने की पूरी कोशिश की है। इस एक पोस्ट को पढ़ने के बाद आप आसानी से यह समझ जाएंगे। कि आखिर इंटरनेट होता क्या है। इंटरनेट को किस तरह से पूरे विश्व में प्रयोग किया जा रहा है। तथा इंटरनेट को दुनिया में शुरुआत किस तरह से हुई है। दोस्तों इस पोस्ट को पढ़कर इन सब बातों को बहुत ही आसानी से समझ जाएंगे। दोस्तों इंटरनेट आज के समय में हर एक व्यक्ति के जीवन एक ऐसा हिस्सा बन चुका है। जिसके बिना हम किसी भी कार्य को आसानी से करने के बारे में नहीं सोच सकते। दोस्तों आज के समय में इंटरनेट के माध्यम से बहुत सारे कार्य बहुत बड़े-बड़े कार्य बहुत ही आसानी से तथा बहुत ही कम समय में हो जाते हैं। क्योंकि संभव हो पाया है सिर्फ और सिर्फ इंटरनेट के कारण ही।

Leave a Reply